बच्चों में भूख बढ़ाने के 8 घरेलू असरदार उपाय (Babies ki Bhook badhane ke gharelu upay) 

माता-पिता के लिए बच्चे बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं। वह अपने बच्चों को हर महत्वपूर्ण सुविधा देने का प्रयास करते हैं। और उनके पोषण का भी विशेष ध्यान रखते हैं जिससे उनके बच्चे पूरी तरीके से स्वस्थ बने रहे। कभी-कभी ऐसा देखा गया है कि बच्चे खाना खाना बिल्कुल पसंद नहीं करते। वह नहीं चाहते कि वह खाना खाएं इससे मां-बाप को बहुत ज्यादा दिक्कत होती है और उन्हें यह भी मालूम नहीं होता कि वह अपने बच्चों की भूख को कैसे बढ़ाएं।(Babies ki bhook kaise badhaye) 

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपके बच्चों में भूख बढ़ाने के आठ घरेलू उपाय (Babies ki bhook kaise badhane ke gharelu upay) के विषय में बताएंगे। यदि आप भी इस विषय में जानकारी चाहते हैं तो हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

बच्चों में भूख बढ़ाने के घरेलू उपाय

माता-पिता बच्चन की भूख किस प्रकार बढ़ा सकते हैं(Babies ki bhook kaise badhane ke gharelu upay) उसके विषय में विभिन्न घरेलू उपाय के विषय में जानकारी दी गई हैं। आप इन उपाय को अपना कर अपने बच्चों की भूख को सुधार सकते हैं।

Babies ki Bhook badhane ke gharelu upay

इलायची :

इलायची एक बहुत अच्छी उसे औषधि हैं। जो बच्चे की भूख बढ़ाने में उसकी मदद करती हैं। इलायची का सेवन हमें लगातार करना चाहिए। इलायची स्वाद में भी बहुत अच्छी होती है और यदि आपका बच्चा खाना खाने में ज्यादा इंटरेस्टेड नहीं हैं। तो आप अपने बच्चों की भूख को बढ़ाने के लिए इलायची का सेवन कर सकते हैं।

 इलायची पाचन तंत्र में भी बहुत महत्वपूर्ण रोल निभाता है। यदि बच्चों को पेट फूलने या गैस बनने की समस्या है। तब भी इलायची का इस्तेमाल करके बच्चे के पेट को एकदम ठीक किया जा सकता है और उसकी भूख को बढ़ाया जा सकता है।

 इलायची का इस्तेमाल करने के लिए आप इलायची को सुखाकर पीसकर एक डब्बे में रख सकते हैं। जब भी बच्चे को आप दूध पिलाए तब इलायची दूध में मिलकर बच्चों को पिलानी चाहिए। इससे बच्चे का पाचन तंत्र भी ठीक रहता है और बच्चे की भूख बढ़ाने में भी मदद मिलती है।

इमली :

इमली भी बच्चे की भूख बढ़ाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है। यह खाने में भी स्वादिष्ट होती है इसका स्वाद खट्टा होता है। कई तरीके की चटनी बनाने के लिए इमली का इस्तेमाल बहुत बड़ी मात्रा में किया जाता है। 

इमली में मौजूद बात हर और रेचक गुण बच्चों की भूख बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण रोल निभाते हैं। इमली के दो भाग होते हैं एक तो इसका गूदा और दूसरा इसकी पत्तियां आप अपने बच्चों को इमली का गुदा देने के बजाय इसकी पत्तियों की चटनी बनाकर बच्चों को खिला सकते हैं।

 यह खाने में भी बहुत स्वादिष्ट होती है और यह बच्चे के पाचन तंत्र को भी विकसित करने में बहुत मदद करती हैं। इसलिए आप इमली की मदद से बच्चे की भूख को बढ़ा सकते हैं।

अदरक :

अदरक एक औषधि के रूप में कार्य करती है अदरक के मनुष्य के जीवन में बहुत सारे फायदे हैं। अदरक को सर्दी खांसी को ठीक करने के लिए उपयोग किया जाता हैं। इसके अलावा यह चाय या सब्जियों में स्वाद के लिए भी इस्तेमाल की जाती हैं।

 यदि आपको खांसी की समस्या है तो अदरक के सेवन से खांसी की समस्या भी बिल्कुल दूर भाग जाती हैu यदि आप काढ़ा बनाकर पी रहे हैं तो उसमें भी अदरक का इस्तेमाल अवश्य ही करना चाहिए। इसके अलावा अदरक पाचन तंत्र में भी बहुत महत्वपूर्ण होती हैं।

 यह बच्चे के पाचन तंत्र को ठीक करने में मदद करती है और बच्चे की भूख को भी विकसित करती है। अपने बच्चों की भूख को बढ़ाने के लिए खाना खिलाने से आधे घंटे पहले दूध में थोड़ा सा काला नमक मिलाकर बच्चों को खाने के लिए देना चाहिए। इससे बच्चों को बहुत तेज भूख लगती हैं।

 यदि आपका बच्चा डायरेक्ट तौर पर अदरक लेना पसंद नहीं कर रहा हैं। तो आप दूध में या पानी में अदरक को भेज कर उसे उबालकर भी बच्चे को पिला सकती हैं। इससे भी बच्चे की भूख को विकसित होने में मदद मिलेगी।

लीची :

लीची को अक्सर हम फ्रूट के तौर पर कहते हैं। लीची बहुत ही स्वादिष्ट होती है और ज्यादा से ज्यादा लोगों से खाना पसंद करते हैं। यह वैसे तो बहुत कम मात्रा में पाई जाती हैं। परंतु पहाड़ों पर यह बहुत अधिक मात्रा में प्राप्त होती है।

 लीची का सेवन करने से बच्चे की भूख बढ़ाने में मदद मिलती है क्योंकि यह स्वादिष्ट होती है। इसलिए बच्चे इसको बहुत स्वाद लेकर कहते हैं और खाने में किसी प्रकार की कोई आनाकानी नहीं करते।

 यदि आपके बच्चे की भूख कम है और आप उसे बढ़ाना चाहते हैं तो आप अपने बच्चों को नीचे खिला सकते हैं। यह पाचन तंत्र को भी विकसित करने में मदद करती है। और बच्चे की भूख को विकसित तेजी से करती है।

आबला :

वाला पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें बड़ी मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिन भी बच्चों में पोषक तत्वों की कमी होती है। उन्हें डॉक्टर के द्वारा भी वाला को खाने की सलाह दी जाती है वाला में विटामिन डी पाया जाता हैं।

 जो आंखों की रोशनी को ठीक करने में भी मदद करता है जिन लोगों की आंखों की रोशनी कमजोर होती है या जिन्हें आंखों में किसी प्रकार की समस्या होती है। उन्हें ज्यादा से ज्यादा वाला के सेवन की सलाह दी जाती है। यदि आप अपने बच्चों की भूख को बढ़ाना चाहती हैं।

 तो आप अवल को पानी में उबालकर उसमें शहद मिलाकर बच्चों को पीने के लिए देना चाहिए। इससे बच्चे का पाचन तंत्र विकसित होता है और उसकी भूख तेजी से बढ़ती है। और आपके बच्चे की भी ग्रोथ तेजी से होती है।

छाछ :

छाछ के इस्तेमाल से भी आप अपने बच्चों की भूख को बढ़ा सकते हैं। छाछ को घर में ही बनाकर बच्चों को पिलाया जा सकता है।  छाछ पेट को ठीक रखने में मदद करता हैं। यह बिल्कुल हल्का होता है और बच्चे में ऊर्जा प्रदान भी करता है। 

छाछ बनाने के लिए सबसे पहले दही को ठीक प्रकार से माथा जाता है उसके बाद उसमें से मक्खन को निकाल कर नीचे के भाग को इस्तेमाल किया जाता है। यदि नमक को मिलाकर आप अपने बच्चों को छाछ पीने के लिए देते हैं तो उसका पाचन तंत्र ठीक रहता है और उसे तेजी से भूख लगती है।

छाछ पीने में बहुत स्वादिष्ट होता है यदि ताजा छाछ बच्चों को बनाकर पिलाया जाता हैं। तो यह बच्चे के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी भी होता हैं। बहुत सारे पोषक तत्व छाछ में उपस्थित होते हैं जो बच्चे की भूख बढ़ाने के अलावा उसके शरीर में पोषक तत्वों की भी पूर्ति करते हैं।

अजवाइन :

 अजवाइन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है अजवाइन को ज्यादातर हम गैस की समस्या में इस्तेमाल करते हैं। जब किसी का पेट खराब होता है। या किसी को गैस की समस्या होती है। तो वह अजवाइन का इस्तेमाल करके अपनी समस्या को ठीक करते हैं।

 अजवाइन हमारे पाचन तंत्र को भी विकसित करने में मदद करती है। अजवाइन का इस्तेमाल यदि हम अपने भोजन में करते हैं तब भी यह हमें बहुत फायदा पहुंचती है। और भूख को बढ़ाने में मददगार होती हैं। यदि अजवाइन को हम सीधे तौर पर गर्म पानी से इस्तेमाल करते हैं। तो अजवाइन हमारी भूख को बहुत तेज बढ़ती है।

 आप अपने बच्चों को खाना खाने के बाद अजवाइन दे सकते हैं या खाना खाने के पहले भी अजवाइन का सेवन करवा सकते हैं। अजवाइन शरीर के लिए महत्वपूर्ण होती है और गैस को ठीक करने में मदद करती है।

फास्ट फूड को दूर रखें :

फास्ट फूड को बच्चों को बिल्कुल नहीं खाना देना चाहिए फास्ट फूड बहुत ज्यादा नुकसानदायक होता है और यह पाचन तंत्र को बेकार में सबसे ज्यादा रिस्पांसिबल होता है। यह बच्चे के स्वास्थ्य पर बहुत ज्यादा मात्रा में प्रतिकूल प्रभाव डालता है और पाचन तंत्र को कमजोर करता हैं।

 फास्ट फूड में ऐसे बहुत सारे केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है जो बच्चे की भूख को करने के लिए उत्तरदाई होते हैं आजकल फास्ट फूड स्वादिष्ट होने के कारण बच्चे इसी को खाना प्रेफर करते हैं। लेकिन माता-पिता को इस विषय में अवश्य ध्यान देना चाहिए। कि वह अपने पास बच्चे को फास्ट फूड का सेवन कम से काम करने दे।

 यदि बच्चे लगातार फास्ट फूड खाते हैं तो वह बहुत जल्दी-जल्दी बीमार पड़ते हैं। फास्ट फूड में मैदे का इस्तेमाल ज्यादा मात्रा में होता है। मैदा पाचन तंत्र को ठीक नहीं रखना देता और बहुत ज्यादा प्रतिकूल प्रभाव हमारे स्टमक की सेल्स पर डालता हैं। इससे हमारे स्टमक पर ज्यादा प्रेशर पड़ता है और हमारा पेट खराब हो जाता है।

बच्चों के भूख बढ़ाने के कुछ अन्य सरल उपाय

बच्चों की भूख बढ़ाने के लिए कुछ सरल (Babies ki bhook kaise badhane ke saral upay)उपाय बताए गए हैं।यदि आपके ऊपर बताए गए उपाय कठिन महसूस होते हैं तो आप इन उपायों का इस्तेमाल करके भी अपने बच्चों की भूख को ठीक कर सकते हैं।

  • अपने बच्चों के हर में हल्दी को शामिल करके भी आप अपने बच्चों की भूख को ठीक कर सकते हैं।  हल्दी बहुत महत्वपूर्ण होती है और उसे विभिन्न प्रकार के रोगों से भी बचाने में मदद करती है।
  • मूंगफली बच्चों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती हैं। ज्यादातर बच्चे मूंगफली खाना पसंद करते हैं। मूंगफली में जिंक पाया जाता है। जो बच्चे की भूख को विकसित करने में मदद करता है। लगातार यदि बच्चे मूंगफली का सेवन करते हैं तो उनकी भूख पिक्चर होती है और उनका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है। यदि आपका बच्चा एक डेढ़ साल से काम का है तो आप अपने बच्चों को मूंगफली खाने को ना दे।
  • डॉक्टर के द्वारा भी यह बताया गया है कि पौधे ने का सेवन करने से भी बच्चे की भूख विकसित होती है। यदि आप अपने बच्चों की भूख को बढ़ाना चाहते हैं। तो आप पुदीने का रस निकालकर बच्चों को पिला सकते हैं। 
  • इसके अलावा ढाणी के रस और पुदीने के रस को मिलकर भी आप अपने बच्चों को पिला सकते हैं। यह भी बच्चे की भूख बढ़ाने के लिए सरदार होता है।
  • धनिया और पुदीने की चटनी भी बहुत स्वादिष्ट होती है ज्यादातर लोग धनी और पुदीने की चटनी को मिलाकर खाना पसंद करते हैं।
  • आप भी यह चटनी बनाकर बच्चों को खिला सकते हैं और बच्चे के पाचन तंत्र को ठीक कर सकते हैं। उसकी भूख को भी विकसित कर सकते हैं।

टॉपिक से संबंधित प्रश्न एवं उनके उत्तर (FAQ) 

Q. ज्यादातर बच्चे खाना खाना क्यों पसंद नहीं करते? 

भूख कम लगने के कारण जाकर बच्चे खाना खाना नहीं पसंद करते।

Q. बच्चों की भूख को ठीक करने के लिए उसे क्या नहीं खिलाना चाहिए? 

बच्चों की भूख को ठीक करने के लिए उसे फास्ट फूड से दूर रखना चाहिए।

Q. भूख बढ़ाने के लिए क्या-क्या घरेलू उपाय इस्तेमाल किया जा सकते हैं? 

भूख को बढ़ाने के लिए अजवाइन अदरक छाछ लीची अदरक मूंगफली हल्दी आदि चीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Q. मूंगफली कितने छोटे बच्चों को नहीं खिलानी चाहिए? 

डेढ़ साल से कम उम्र के बच्चों को मूंगफली नहीं खिलानी चाहिए।

निष्कर्ष :

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बच्चों में भूख बढ़ाने के 8 घरेलू असरदार उपाय (Babies ki bhook kaise badhane ke gharelu upay) के विषय में जानकारी देने का पूरा प्रयास किया है।यदि फिर भी आपके मन में कोई प्रश्न है तो कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट  कर कर पूछ सकते हैं।

हमारे आर्टिकल के द्वारा प्रदान की हुई जानकारी बिल्कुल ठोस और सटीक है। अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आए तो तो आप इसे अवश्य शेयर करें। हमारा आर्टिकल पूरा पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद

Leave a Comment